OTP Kya Hota Hai - One Time Password की पूरी जानकारी (2022)

नमस्कार दोस्तों! आज हम जानेंगे OTP Kya Hota Hai, OTP Meaning In Hindi इसलिए यह लेख आपके काम की हैं। जैसा कि आप जानते है कि वर्तमान समय मे सभी चीजें डिजिटल हो गयी है। ऐसे में लोग मोबाइल रिचार्ज, शॉपिंग इत्यादि कार्य ऑनलाइन कर सकते हैं, साथ ही ऑनलाइन भुकतान भी कर सकते है।

Otp kya hota hai
OTP Full Form Hindi

इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा पैसों का ऑनलाइन भुकतान करते वक्त हमें अंत मे OTP देना पड़ता हैं, तभी भुकतान की प्रक्रिया पुर्ण हो पाती हैं। ये ओटीपी बैंक में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आता हैं।

तो ऐसे में आप नही जानते हैं, कि OTP Kya Hota Hai और OTP Full Form क्या होता है?, तो आज के इस पोस्ट में आपको ओटीपी का मतलब क्या होता है पूरी जानकारी देने वाला हूँ। 



OTP (One Time Password) क्या होता है?


OTP एक तरह का सुरक्षा कोड होता हैं। यह कोड 6 अंको का होता हैं। ओटीपी के द्वारा मुख्यतः ऑनलाइन वेरिफिकेशन के कार्यो को पूर्ण किया जाता हैं। OTP का मतलब "One Time Password" होता है, यानी ओटीपी को हिंदी में "एक बार इस्तेमाल किये जाने वाला पासवर्ड" कहा जाता हैं।


ओटीपी का एक बार उपयोग करने के बाद उसी ओटीपी को दूसरी बार यूज नही किया जा सकता हैं। प्रत्येक ओटीपी एक निश्चित समय के लिए वैध होते हैं। समय सीमा समाप्त होने पर ये ओटीपी किसी काम का नही रह जाता हैं। ये समय सीमा भिन्न भिन्न कंपनियों द्वारा निर्धारित की जाती हैं।


जब हम किसी एप्प या वेबसाइट में Sign Up (Register) करते हैं यानी कोई नया एकाउंट बनाते हैं, तो हमसे वेरिफिकेशन के लिए मोबाइल नंबर या ईमेल एड्रेस मांगा जाता है। और उसपर ओटीपी भेजा जाता हैं। जब हम उस एप्प या वेबसाइट द्वारा भेजे गए ओटीपी को डालते है, तो वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूर्ण होती हैं।


ऐसा इसलिए किया जाता हैं, ताकि भविष्य में यदि हम नए एकाउंट का पासवर्ड भूल जाते हैं। तो उस वेरिफाईड नंबर या ईमेल एड्रेस पर ओटीपी भेजकर पासवर्ड को प्राप्त किया जा सके।



ये भी पढ़े:- मजबूत पासवर्ड बनाने के 8 टिप्स


OTP का उपयोग (Uses Of OTP in Hindi)


1. इंटरनेट बैंकिंग और पेमेंट्स एप्प (Paytm, GooglePay, PhonePe, MobiKwik इत्यादि) अपने यूजर्स के पैसों का ऑनलाइन Transactions को सुरक्षित करने के लिए ओटीपी का उपयोग करती हैं।


2. किसी एप्प या वेबसाइट में नया एकाउंट बनाने के लिए यूजर (मोबाईल नंबर या ईमेल आईडी) वेरिफिकेशन के लिए ओटीपी का यूज करती हैं।


3. ऑनलाइन एकाउंट को हैक होने से बचाने के लिए 2 स्टेप वेरिफिकेशन में ओटीपी का उपयोग किया जाता हैं।



ये भी पढ़े:- ATM से पैसे कैसे निकले?


OTP के फायदे (Advantages of OTP in Hindi)



1. सुरक्षित इंटरनेट बैंकिंग


OTP की सुविधा होने से आज इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा पैसों का Online Transactions करना काफी सुरक्षित हो गया हैं, क्योंकि जब हम अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन Transactions करते है। तो लास्ट में हमें बैंक द्वारा रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी डालना पड़ता हैं। तभी पैसों का Transactions सफल हो पाता हैं।



2. एकाउंट की सुरक्षा

सोशल मीडिया ( Facebook, इंस्टाग्राम, ट्विटर इत्यादि) या अन्य साइट्स पर आपने कोई एकाउंट बना रखा है। तो आप जानते हैं की आपके एकाउंट का यूजर आईडी और पासवर्ड किसी को पता चल जाये तो आपका एकाउंट हैक हो सकता हैं।


तो ऐसे में यदि आपने अपने एकाउंट में 2 स्टेप वेरिफिकेशन को इनेबल करके रखा हैं। तो एकाउंट को लॉगिन करने यूजर आईडी और पासवर्ड के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को भी डालना पड़ता है।तभी एकाउंट को एक्सेस किया जा सकता हैं। जो आपके लिए संभव हैं।



3. ऑनलाइन सत्यापन


आजकल ओटीपी के कारण उपयोगकर्ता का ऑनलाइन सत्यापन करना आसान हो गया हैं। उदहारण के लिए अगर आप ऑनलाइन अपना आधार कार्ड या कोविद-19 सर्टिफिकेट डाऊनलोड करना चाहते हैं। तो उससे लिंक्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी भेजा जाता हैं। यदि आपने सही ओटीपी डाल दिया। तो आप ही इसके सही उपयोगकर्ता है। यह सत्यापित हो जाता है।



4. रैंडम ओटीपी नम्बर


हमारे मोबाइल नंबर पर आने वाला ओटीपी हर बार अलग अलग होता हैं। यानी यह एक अलग तरह का पासवर्ड होता हैं। जो एक बार उपयोग करने के बाद बेकार हो जाता हैं।



5. निर्धारित समय सीमा


ओटीपी की एक अच्छी बात यह हैं कि ये पासवर्ड एक निर्धारित समय के अंदर ही काम करते हैं। समय सीमा समाप्त होने ये पासवर्ड किसी काम का नही रह जाता हैं।



6. अकाउंट का पासवर्ड भूल गया


किसी वेबसाइट पर कोई एकाउंट बनाने के बाद दूसरी बार लॉगिन करने के लिए यदि आप पासवर्ड भूल जाते है। तो उस एकाउंट से लिंक्ड नंबर या ईमेल में आये ओटीपी डालकर पुनः पासवर्ड को रिसेट कर सकते है।


सावधानी :- वैसे तो ओटीपी ऑनलाइन वेरिफिकेशन और सुरक्षा के लिए काफी अच्छा हैं, लेकिन आपको ओटीपी से जुड़ी कुछ सावधानी बरतने की भी जरूरत है। आपके मोबाइल में आये ओटीपी को किसी के साथ शेयर न करें।क्योंकि ऐसा करने से हैकरों द्वारा आपका बैंक में रखा पैसा चुरा लिया जाए। या आपके किसी एकाउंट को हैक कर लिया जाए, इसलिए सतर्क रहे।




OTP से जुड़े सवाल जवाब (FAQs)


ओटीपी का फुल फॉर्म क्या है?


ओटीपी (OTP) का फुल फॉर्म "One Time Password" होता हैं, जिसे हिंदी में "एक बार उपयोग किया जाने वाला पासवर्ड" कहा जाता हैं।



मेरे फोन का ओटीपी नंबर क्या है?


आपको अपने फोन में किसी एप्प, वेबसाइट या कंपनी द्वारा रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आने वाला ओटीपी फोन के Messaging एप्प में मिलेगा।



OTP का उपयोग क्यो किया जाता हैं?


ओटीपी का उपयोग मुख्यतः ऑनलाइन वेरिफिकेशन के लिए किया जाता हैं, आजकल ऑनलाइन Transaction, एकाउंट को सिक्योर करने इत्यादि कार्यो के लिए ओटीपी का उपयोग किया जाता हैं।



ये भी पढ़े:

आपने क्या सीखा [Conclusion]

तो दोस्तों! हमें उम्मीद हैं, अब आप अच्छे से समझ गए होंगें कि OTP KYA Hota Hai आजकल साइबर अपराधी लोगों के पैसों को उड़ाने के लिए फोन कॉल करते हैं, और सिम कार्ड या बैंक खाता बंद होने के बहाने बनाकर या फिर पैसों का लालच देकर आपसे ओटीपी जानने की कोशिश करते हैं। ऐसे में इन फ्रॉड कॉल से बच के रहे।


आप यहाँ OTP क्या हैं जानने आए हैं, तो मेरा फर्ज बनता है कि आपको OTP Meaning In Hindi के साथ साथ इसकी सावधानियो को भी बताया जाए, ताकि आप ऐसे ऑनलाइन फ्रॉड से सुरक्षित रहे। यह लेख पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।



1 Comments

Previous Post Next Post